Let (करने देना) Let – “इन वाक्यों में Subject काम को करता नहीं बल्कि करने देता है।” अगर मैं कहूँ राम मुझे खेलने देता है। यहाँ पर राम Subject है पर वो खेलने का काम खुद नहीं कर रहा बल्कि मुझे करने दे रहा है। अगर मैं कहूँ अंजलि अविरत को पढ़ने… Continue Reading Definition & concept of ‘Let’ In Hindi (lesson No.18)

Imperative Sentences (आज्ञा सूचक वाक्य) “आज्ञासूचक वाक्य वो होते हैं जिनकी मदद से हम या तो किसी को कोई आदेश देते हैं, सलाह देते हैं या फिर किसी से कोई अनुरोध करते हैं।” अगर मैं आपसे कहूँ  कि “मुझे पैन दो”, तो या तो मैं आपको आदेश  दे रहा हूँ। या फिर… Continue Reading What is an Imperative Sentence in Hindi(आज्ञा सूचक वाक्य)

20. As far as (जहाँ तक) जहाँ तक मैं जानता हूँ उसके दो बच्चे हैं।  As far as I know, he has two children. जहाँ तक मुझे पता है उसकी शादी हो चुकी है।  As far as I know, he is married. जहाँ तक मेरी पढ़ाई का सवाल है, मैंने सिर्फ… Continue Reading CONJUNCTIONS– समुच्चय बोधक अव्वय (LESSON NO.17) PART 3

9. Neither – nor ( न ये – न वो ) न तुम जाओ न मुझे जाने दो। Neither you go nor let me go. मैं न दिल्ली जाऊँगा न मुम्बई । I’ll neither go to Delhi nor Mumbai. न तुम गलत हो न वो। Neither you nor he is wrong. / Neither you are wrong… Continue Reading CONJUNCTIONS– समुच्चय बोधक अव्वय (LESSON NO.17) PART 2

Conjunctions (कंजंक्शन) – समुच्चय बोधक अव्वय “Conjunctions ऐसे शब्द होते हैं जो दो शब्दों या वाक्यों को जोड़ देते हैं।” इस तरह वाक्य भी छोटा हो जाता है और अर्थ भी नहीं बदलता। अगर मैं कहूँ राम अच्छा है और फिर कहूँ मोहन भी अच्छा है। जब दोनों अच्छे हैं तो… Continue Reading Conjunctions– समुच्चय बोधक अव्वय (Lesson no.17) part 1

Parts of speech Types & Definitions In Hindi Parts of speech Types & Definitions In Hindi. किसी भी वाक्य को लिखने व बोलने के लिए शब्दों के समूह का प्रयोग किया जाता है। वाक्य में प्रयोग इन सभी शब्दों को कोई न कोई नाम दिया जाता है। जैसे – संज्ञा,… Continue Reading Parts of speech Types & Definitions In Hindi

What is Interjection (विस्मयादिबोधक) In Hindi What is Interjection (विस्मयादिबोधक) In Hindi. Interjections का प्रयोग अपनी भावनाओं को व्यक्त करने हेतु किया जाता है। अचानक हुई किसी घटना से मन की भावनाओं का व्यक्त होना जैसे खुशी या दुख प्रकट करना, हैरान होना, शाबाशी देना आदि। भावनाओं को व्यक्त करने के… Continue Reading What is Interjection (विस्मयादिबोधक) In Hindi

What is Determiners (निर्धारक) In Hindi What is Determiners (निर्धारक) In Hindi. A Determiner is a word that is placed just before a noun to give additional information about that noun and that’s why they are also classified as Adjectives. मान लीजिए आप कहना चाहते हैं ‘यह लड़का राम है।’… Continue Reading What is Determiners (निर्धारक) In Hindi

Uses and concept of ‘IT'(इट) In Hindi 1st Concept ‘It’ और ‘This’ दोनों का अर्थ है “यह” पर फर्क ये है कि ‘This’ का प्रयोग सजीव व निर्जीव दोनों के साथ होता है जबकि ‘It’ का प्रयोग केवल निर्जीव के साथ। ‘It’ & ‘This’ both are almost same in usage but… Continue Reading Uses and concept of ‘IT'(इट) In Hindi

What is Simple Sentences In Hindi सरल वाक्य मै या तो क्रिया होती ही नहीं और अगर होती भी है तो Subject उसे कर नहीं रहा होता है “Simple Sentences are those in which either there is no action (verb) at all or even if there is an action, Subject… Continue Reading What is Simple Sentences In Hindi